Dhoka Shayari


Mohabbat jitni mili saari baant di duniya waalon ko , 
Jab maine jholi felai to kisi ne dard ke siwa kuch na dia .
मोहब्बत जितनी मिली सारी बाँट दी दुनिया वालों को , 
जब मैंने झोली फैलाई तो किसी ने दर्द के सिवा कुछ न दिए .
=======================================================================================================


Fursat mein yaad karna ho to kabhi na karna , 
ham tanha zarur hai Magar Fazul nahi .
फुर्सत में याद करना हो तो कभी न करना , 
हम तनहा ज़रूर है मगर फज़ुल नहीं .
=================================================================================================



usse mein tab hi yaad aata hu jab uske paas koi nahi hota .
उससे में तब ही याद आता हु जब उसके पास कोई नहीं होता .
======================================================================================================



mein ku pukaru usse ki laut aao ,
kya usko khabar nahi hai ki kuch nahi hai mere pass uske siwa,
में क्यों पुकारू उससे की लौट आओ ,
क्या उसको खबर नहीं है की कुछ नहीं है मेरे पास उसके सिवा,

=====================================================================================================


juth bolne se kya faaeda , 
jab jana hi tha to , 
bahane banane ki kya zarurat thi ,
जूथ बोलने से क्या फायदा , 
जब जाना ही था तो , 
बहाने बनाने की क्या ज़रूरत थी ,
==================================================================
bhagwan mujhe please aise logo se mat milaao , jo sirf apna matlab nikalna jaanta ho
भगवान मुझे प्लीज ऐसे लोगो से मत मिलाओ जो सिर्फ अपना मतलब निकलना जानता हो . 
======================================================================================================
 



kisi ke liye rona bekar hai ab to ,
log to apna matlab nikal kar chale jaate hai .
किसी के लिए रोना बेकार है अब तो ,
लोग तो अपना मतलब निकाल कर चले जाते है .
======================================================================================================


aakhir tune dikha hi di apni aukaat,
ja tujhe aazad karte hai ham,
आखिर तूने दिखा ही दी अपनी औकात,
जा तुझे आज़ाद करते है हम,
========================================================================================================
sochta hu jab tere baare mein , to sirf ik cheez mili thi hame tujhse pyar karne ke baad, 
aur vo tha sirf dhoka.
सोचता हु जब तेरे बारे में , तो सिर्फ इक चीज़ मिली थी हमें तुझसे प्यार करने के बाद, 
और वो था सिर्फ धोका.
 ======================================================================================================
aksar mein logo ko apna bna leta hu ,
 pal bhar me mein apna sab kuch bta deta hu ,
 yun to logo ki insaniyat to dekho ,
 sab kuch sunkar fir sath chor jaate hai .
अक्सर में लोगो को अपना बना लेता हु ,
 पल भर में में अपना सब कुछ बता देता हु ,
 यूँ तो लोगो की इंसानियत तो देखो ,
 सब कुछ सुनकर फिर साथ छोर जाते है .
=================================================================================================

zindgi mein na jaane aur kitne sitam milenge ,
meri guzarish hai mere khuda se ke ham apas mein kab milenge.
ज़िंदगी में न जाने और कितने सितम मिलेंगे ,
मेरी गुज़ारिश है मेरे खुदा से के हम आपस में कब मिलेंगे.
==================================================================
jis naam se mohabbat karte the , ab to us naam se hame nafrat hone lagi hai,
जिस नाम से मोहब्बत करते थे , अब तो उस नाम से हमें नफरत होने लगी है,
 

shikwa nhi k tu bhi badal jaayegi , hame to mousam ne bta dia tha , 
ke tera haal ab thik nhi hai .
शिकवा नहीं क तू भी बदल जायेगी , हमें तो मौसम ने बता दिए था , 
के तेरा हाल अब ठीक नहीं है 
================================================================================================
 

Arrrre kuch to insaaniyat rakhi hoti , To yun 
Tum do kashtiyo mein sawar na karr rahe hote.
अरे कुछ तो इंसानियत राखी होती , तो यूँ 
तुम दो कश्तियो में सवार न कर रहे होते.
==============================================================================================


 Maine to socha ke tu mujhe bhot pyar karti hai ,
 Per ab maloom hua ,
 ke ye pyar nhi sirf ek dhoka tha .
मैंने तो सोचा के तू मुझे भोत प्यार करती है ,
 पर अब मालूम हुआ ,
 के ये प्यार नहीं सिर्फ एक धोका था .

 ==================================================================